हत्या की आरोपी आदिवासी महिला को पीटा और कपड़े उतारे, 5 गिरफ्तार

शंकर नाइक के परिवार की महिलाओं ने उसके कपड़े फाड़ दिए और उसकी आंखों में मिर्च पाउडर डाल दिया. करीब आधे घंटे तक आरोपी की पिटाई की गई. जिसके बाद वो सूर्यापेट एमपीटीसी शांता बाई के घर में घुसने में सफल रही.

0
280

रविवार को सूर्यापेट मंडल के राजा नाइक थांडा की गलियों में 30 साल की एक महिला के कपड़े उतारे गए और डंडों से पीटा गया.

यह घटना सोमवार को तब सामने आई जब पुलिस ने भीड़ के गुस्से की पुष्टि करते हुए कहा कि हमले में शामिल कम से कम पांच आदिवासी महिलाओं को गिरफ्तार किया गया है.

यह 36 वर्षीय महिला तलाकशुदा है और हत्या के एक मामले में आरोपी है. जून 2021 में सूर्यापेट के पास राजा नाइक थांडा में शंकर नाइक (40) की हत्या हुई थी. इस हत्या के छह आरोपियों में से यह महिला एक है.

वो फ़िलहाल जमानत पर बाहर है. लेकिन शंकर नाइक के परिवार से प्रतिशोध के डर से महिला थांडा लौटने के बजाय सूर्यापेट में अपनी बहन के साथ रह रही थी.

हालांकि वो शनिवार को एक रिश्तेदार के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए गाँव आई थी.

सूर्यापेट ग्रामीण सीआई बी विट्टल रेड्डी ने कहा, “शंकर के परिवार को महिला के आने की खबर मिली. उन्होंने उसे एक घर से सड़क पर घसीटा और लाठियों से पीटा.”

शंकर नाइक के परिवार की महिलाओं ने उसके कपड़े फाड़ दिए और उसकी आंखों में मिर्च पाउडर डाल दिया. करीब आधे घंटे तक आरोपी की पिटाई की गई.

जिसके बाद वो सूर्यापेट एमपीटीसी शांता बाई के घर में घुसने में सफल रही. जिन्होंने पुलिस को इस मामले की शिकायक की. बाद में महिला को सूर्यापेट अस्पताल में ले जाया गया.

उसकी शिकायत के आधार पर पुलिस ने तीन नाबालिगों सहित 10 आरोपियों के खिलाफ एक महिला की शील भंग, आपराधिक धमकी, अतिचार और स्वेच्छा से चोट पहुंचाने से संबंधित आईपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया.

दुपट्टे से अपना चेहरा ढके पीड़िता भी टीवी कैमरामैन के सामने पेश हुई और अपनी आपबीती सुनाई. उसने हमलावरों का नाम लेते हुए कहा, “शंकर नाइक के परिवार की महिलाओं ने मुझे मेरे चाचा के घर से घसीटा, उन्होंने मेरे कपड़े उतार दिए और मेरी आँखों और अन्य अंगों में मिर्च पाउडर लगा दिया. उन्होंने मुझे सबके सामने सड़कों पर नंगा घुमाया और गांव के बोदराई (केंद्र) में मुझे मारना चाहते थे.”

सोमवार को पांच आरोपी महिलाओं एल भारती, बी ज्योति, एल पद्मा, एल ज्योति और एल सुनीता को गिरफ्तार किया गया. सीआई ने कहा, “गिरफ्तार आरोपी को न्यायिक रिमांड के लिए अदालत में पेश किया जाएगा. हमने दूसरे आरोपियों का पता लगाने के लिए एक खोज शुरू की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here