आदिवासियों का पानी बंद करने पर ग्राम समिति पर मुक़दमा

उपाधीक्षक दिलीप गोडबोले के अनुसार ग्राम समिति सालों से कटकरी में हर परिवार से हर महीने 100 रुपये का जल उपकर एकत्र कर रही थी. हाल ही में, समिति ने पानी के उपकर को बढ़ाकर 500 रुपये कर दिया.

0
781

महाराष्ट्र के ठाणे ज़िले के एक आदिवासी बहुल गांव, कटकरी में पीने के पानी की सप्लाई रोक दी गई है. ग्राम समिति ने उपकर (Cess) का भुगतान न किए जाने पर सप्लाई रोकी है.

ग्रामीण पुलिस ने गांव वालों की शिकायत पर ग्राम प्रबंध समिति के पांच सदस्यों पर मामला दर्ज किया है. जिन सदस्यों पर केस दर्ज हुआ है उसमें से चार महिलाएं हैं.

प्रबंध समिति के सदस्यों के ख़िलाफ़ मामला अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम, 1989 के तहत दर्ज किया गया है.

इस सिलसिले में अब तक कोई गिरफ़्तारी नहीं हुई है. पुलिस का कहना है कि फ़िलहाल मामले की जांच की जा रही है.

उपाधीक्षक दिलीप गोडबोले के अनुसार ग्राम समिति सालों से कटकरी में हर परिवार से हर महीने 100 रुपये का जल उपकर एकत्र कर रही थी. हाल ही में, समिति ने पानी के उपकर को बढ़ाकर 500 रुपये कर दिया.

कटकरी समुदाय को PVTG श्रेणी में रखा गया है

कटकरी के निवासियों ने यह कह कर इसका विरोध किया कि वह यह भुगतान करने में असमर्थ हैं. इसके बाद ग्राम समिति ने पिछले हफ़्ते के अंत में गांव की पानी की सप्लाई बंद कर दी.

कटकरी के निवासियों को जब दो दिन (7 और 8 फरवरी) पानी नहीं मिला, जिसके बाद उन्होंने ग्राम समिति के सदस्यों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई.

कटकरी पीवीटीजी की श्रेणी के आदिवासी हैं. यानि इस समुदाय के लोग बेहद ग़रीब हैं. सरकार इन लोगों के लिए अलग से योजनाएं चलाती है.

यह आदिवासी समुदाय महाराष्ट्र के ठाणे और रायगढ़ में रहते हैं. 2011 की जनगणना के अनुसार देश भर में कटकरी आबादी 304073 है. महाराष्ट्र में इनकी कुल आबादी 285334 बताई जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here