तेलंगाना: काम पर जाने वाली आदिवासी औरतों के लिए बनेगा हॉस्टल

राजस्व अधिकारियों ने हॉस्टल की स्थापना के लिए मैलारदेवपल्ली मंडल में 2,420 वर्ग गज के बराबर भूमि को चुना है.

0
240

तेलंगाना के रंगारेड्डी जिले के अलग-अलग हिस्सों में काम करने वाली आदिवासी महिलाओं के लिए सुरक्षित आवास सुनिश्चित करने के लिए पहल को जा रही है. राज्य के आदिवासी कल्याण विभाग ने एक आदिवासी कल्याण कामकाजी महिला हॉस्टल बनाने का प्रस्ताव दिया है, जिसके लिए भूमि की पहचान भी कर ली गई है.

काम के लिए लंबी दूरी तय करने वाली आदिवासी महिलाओं की सुरक्षा के लिए ही आदिवासी कल्याण विभाग ने हॉस्टल का प्रस्ताव रखा. इसके तहत अब परियोजना के लिए राजेंद्रनगर के मैलारदेवपल्ली में भूमि की पहचान हो गई है.

खबरों के अनुसार, राजस्व अधिकारियों ने हॉस्टल की स्थापना के लिए मैलारदेवपल्ली मंडल में 2,420 वर्ग गज के बराबर भूमि को चुना है.

एक राजस्व अधिकारी ने बताया कि आदिवासी कल्याण हॉस्टल के निर्माण के लिए सरकारी भूमि की पहचान कर आदिवासी कल्याण विभाग के अधिकारियों के साथ एक संयुक्त निरीक्षण भी कर लिया गया है. अब हॉस्टल बनाने के लिए रंगारेड्डी जिले के राजस्व मंडल अधिकारियों के साथ आगे की बात चल रही है.

रंगारेड्डी जिले के आसपास के इलाकों से कई आदिवासी काम करने के लिए यहां आते हैं. उनके लिए रोज आना जाना संभव नहीं है, तो वो लोग, खासकर महिलाएं, रहने की उचित जगह की तलाश में हमेशा होती हैं. ऐसे में उनके लिए एक हॉस्टल की व्यवस्था एक अच्छा कदम है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here