तमिलनाडु: आदिवासियों के लोकतांत्रिक अधिकार की रक्षा, दुर्गम पहाड़ी इलाक़ों में बनाए गए अलग से पोलिंग बूथ

0
304

तमिलनाडु में आज हो रहे चुनाव के लिए मतदान अधिकारियों ने 1221 आदिवासी मतदाताओं के लिए दुर्गम पहाड़ी इलाक़ों में दो पोलिंग बूथ लगाए हैं.

केल्लूर और केडमलई तक पहुंचने के लिए सड़कें नहीं हैं. यहां पहुंचने के लिए पहाड़ी रास्ते से होते हुए सात किलीटर लंबा ट्रेक करना पड़ता है. लेकिन इस मुश्किल ट्रेक के बावजूद अधिकारियों ने सुनिश्चित किया कि यहां के आदिवासी मतदाताओं के लोकतांत्रिक अधिकार का सम्मान हो.

केल्लूर और केडमलई नमक्कल ज़िले के दो दुर्गम मतदान केंद्र हैं, जहाँ पहुंचने के लिए मुकिल रास्ते पर चलना पड़ता है.

केडमलई मतदान केंद्र में 167 पुरुष और 155 महिला मतदाता हैं, जबकि केल्लूर में 452 पुरुष मतदाता और 447 महिला मतदाता हैं. यहां लगाए गए बूथों को एक अलग क्षेत्र माना गया है.

इन मतदान केंद्रों पर पुलिस सहित लगभग 24 मतदान कर्मियों को तैनात किया गया है. यहां बूथ स्थापित करने के लिए मतदान कर्मी मतदान सामग्री और मतदान यूनिट्स को हेड-लोड के रूप में ले गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here