14 आदिवासी बहुल जिलों में 74% आबादी को लगा वैक्सीन, लेकिन अभी बहुत काम है बाकी

भाजपा सांसद अपराजिता सारंगी द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में, केंद्रीय जनजातीय मामलों की राज्य मंत्री रेणुका सिंह सेरुता ने एक लिखित उत्तर में यह बात कही.

0
141

14 आदिवासी बहुल जिलों की लगभग 74 प्रतिशत वयस्क आबादी को कोविड-19 वैक्सीन की कम से कम एक खुराक मिल चुकी है.

भाजपा सांसद अपराजिता सारंगी द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में, केंद्रीय जनजातीय मामलों की राज्य मंत्री रेणुका सिंह सेरुता ने एक लिखित उत्तर में यह बात कही.

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय से मिली जानकारी के अनुसार, 25 नवंबर 2021 तक ओडिशा के 14 आदिवासी बहुल जिलों में कुल 1,00,68,104 लोगों (अनुमानित वयस्क आबादी का 73.5 प्रतिशत हिस्सा) को कोविड वैक्सीन की कम से कम एक खुराक मिल चुकी है.

वैक्सीन को लेकर हिचकिचाहट के बारे में पूछे जाने पर मंत्री ने कहा कि आदिवासियों के बीच वैक्सिनेशन अभियान के बारे में कुछ मिथक और गलत धारणाएं थीं, जिसे केंद्र सरकार ने तुरंत संबोधित किया था.

मंत्री ने बताया कि कोविड वैक्सीन की सुरक्षा और उसके प्रभाव के बारे में जागरूकता बढ़ाने, हिचकिचाहट को दूर करने और वैक्सीन पर विश्वास को बनाए रखने के लिए, एक संचार रणनीति भी तैयार की गई है. इसे ओडिशा सहित सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लागू किया जा रहा है.

कोविड वैक्सिनेशन को लेकर आदिवासी आबादी के बीच कई गलतफहमियां हैं, जिन्हें दूर करने के लिए राज्यों में स्वास्थ्य कार्यकर्ता और प्रशासन एड़ी-चोटी का जोर लगा रहा है. इन कोशिशों का कई जगह अच्छा परिणाम भी मिला है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here