ओडिशा: आदिवासी छात्रों के डिजिटल कौशल को बढ़ाने के लिए समझौता

आदिवासी और हाशिए के समुदायों के छात्रों को यूनिवर्सिटी के एक डिजिटल साक्षरता कार्यक्रम का हिस्सा होने का मौका मिलेगा.

0
140

सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ ओडिशा (CUO) ने डिजिटल आदिवासी साक्षरता केंद्र बनाने के लिए एफआईडीआर (Forum for Integrated Development and Research) के साथ साझेदारी की घोषणा की है.

सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ ओडिशा और अनुसंधान और विकास संगठन के बीच पिछले हफ्ते यह समझौता हुआ.

आदिवासी छात्रों के लिए डिजिटल साक्षरता कार्यक्रम

यूनिवर्सिटी के कार्यवाहक कुलपति एसके पलिता ने बताया कि आदिवासी और हाशिए के समुदायों के छात्रों को यूनिवर्सिटी से एक डिजिटल साक्षरता कार्यक्रम का हिस्सा होने का मौका मिलेगा.

कैसे होगी छात्रों की मदद?

कार्यक्रम के तहत आदिवासी और दूसरे पिछड़े समुदायों के छात्रों को डिजिटल कौशल हासिल करने और समय के साथ स्वरोजगार करने में मदद मिलेगी.

एफआईडीआर के निदेशक चारुदत्त पाणिग्रही ने दावा किया, “प्रस्तावित केंद्र इलाके की सॉफ्ट स्किल शिक्षा को पूरा करेगा और युवाओं के आर्थिक सशक्तिकरण को बढ़ावा देगा.”

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पिछले साल 29 अगस्त को डिजिटल साक्षरता केंद्र की घोषणा CUO के 13वें स्थापना दिवस समारोह के दौरान की थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here