दक्षिण केरल में कई आदिवासी लड़कियों ने प्रेमियों से मिले धोखे के बाद खुद को मार डाला

सात मामलों में आरोपी आदिवासी कॉलोनियों के बाहर के थे. हालांकि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन उनके साथियों की गतिविधियों और ड्रग माफिया के साथ उनके संबंधों की आगे कोई जांच नहीं की गई.

0
107

केरल के तिरुवनंतपुरम जिले के पहाड़ी इलाकों में पिछले दो महीनों में पांच लड़कियों ने अपने प्रेमी द्वारा कथित तौर पर धोखा खाने के बाद अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली. एक जांच से पता चला कि ज्यादातर मृत लड़कियों का प्रेमी या कुछ माफिया समूहों के सदस्यों द्वारा यौन शोषण किया गया था.

17 साल की आदिवासी लड़की के माता-पिता ने बताया कि उनकी बेटी को किसी युवक ने नशा देकर फंसाया था. उसकी मां ने उससे बहुत उम्मीदें लगाई थीं और वह चाहती थी कि वह एक पुलिस अधिकारी बने. लेकिन एक स्नातक कार्यक्रम में शामिल होने से पहले ही लड़की ने आत्महत्या कर ली.

पुलिस ने पाया कि आदिवासी कॉलोनी के बाहर के रहने वाले अपने प्रेमी द्वारा धोखा दिए जाने से बहुत दुखी होकर लड़की ने जीवन समाप्त कर लिया. ऐसी भी खबरें हैं कि उसका यौन शोषण किया गया और प्रेमी द्वारा उसे ड्रग्स दिया गया.

यह अकेला मामला नहीं है. हाल ही में जिले के आदिवासी क्षेत्रों से इस तरह की कई आत्महत्याओं की सूचना मिली थी. ज्यादातर मामले पेरिंगमाला और विथुरा पंचायतों से सामने आए.

सात मामलों में आरोपी आदिवासी कॉलोनियों के बाहर के थे. हालांकि आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन उनके साथियों की गतिविधियों और ड्रग माफिया के साथ उनके संबंधों की आगे कोई जांच नहीं की गई.

ज्यादातर आदिवासी लड़कियों को गैर आदिवासी युवकों ने मोबाइल फोन पर मीठी-मीठी बातें करके फंसाया. विथुरा में पिछले सोमवार को एक कॉलेज की छात्रा की उसके प्रेमी द्वारा धोखा खाए जाने के बाद आत्महत्या इस संबंध में ताजा उदाहरण है.

सुसाइड लेटर से साफ था कि विश्वासघात को सहन न कर पाने के कारण उसने इतना बड़ा कदम उठाया. प्रेमी ने शादी का झांसा देकर उसे दूसरी लड़की के लिए छोड़ दिया. लड़की सुबह तक बहुत खुशमिजाज थी. बाद में उसने घर के बेडरूम में अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली.

चित्तर के रहने वाले आरोपी आकाश नाथ ने उसके मोबाइल फोन पर कॉल करके लड़की से संपर्क किया, जो उसे ऑनलाइन कक्षाओं में भाग लेने के लिए उपलब्ध कराया गया था. आदिवासी कॉलोनी की खराब परिस्थितियों के बीच बड़े संघर्षों से गुजरने के बाद ही वह डिग्री स्तर तक अध्ययन करने में सफल रही.

प्रेमी ने सबूत मिटाने की कोशिश की

आत्महत्या के बारे में जानने के बाद प्रेमी ने सबसे पहले अपने घर पहुंचकर अपने मोबाइल फोन से सबूत मिटाने का काम किया. इससे यह संदेह पैदा हो गया था कि यह हत्या का मामला है न कि सिर्फ आत्महत्या का.

पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि प्रेमी ने लड़की का यौन शोषण तो नहीं किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here