केरल: हाथी ने आदिवासी औरत को कुचला, लकड़ी लेने गई थी जंगल

पीड़िता 49 साल की बसवी थी, जो मूझीमला की काटुनायका कॉलोनी में रहती थी.

0
93

केरल से इन दिनों जंगली जानवरों के इंसानों पर हमले की कई खबरें आ रही हैं. ताजा घटना में, एक आदिवासी महिला जो जलाऊ लकड़ी इकट्ठा करने के लिए जंगल में गई थी, उसे मंगलवार दोपहर एक जंगली हाथी ने कुचल कर मार डाला.

पीड़िता 49 साल की बसवी थी, जो मूझीमला की काटुनायका कॉलोनी में रहती थी.

हादसा तब हुआ जब पांच आदिवासी लोगों का एक गुट मंगलवार को नेयकुप्पा जंगल में जलाऊ लकड़ी इकट्ठा करने के लिए गया. दोपहर करीब 2.30 बजे गुट का सामना एक जंगली हाथी से हुआ, और वो उसके हमले की चपेट में आ गए.

बसवी के साथ जंगल गए बाकी चार लोग भागने में सफल रहे, लेकिन भागते समय बसवी नीचे गिर गई. हाथी ने उसे उसी जगह कुचल कर मार डाला, और उसके बाद कई घंटों तक शव के पास ही रहा.

बाद में बड़ी संख्या में आदिवासी लोग मौके पर पहुंचे और शोर मचाकर हाथी को भगा दिया.

पुलपल्ली रेंजर अब्दुल समद, डिप्टी रेंजर इकबाल और सेक्शन फॉरेस्टर मणिकंडन के नेतृत्व में वन विभाग के अधिकारियों ने बाद में बसवी के शव को अस्पताल पहुंचाया.

(तस्वीर प्रतीकात्मक है)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here