पोडु भूमि: आदिवासी की छाती पर सरकारी पैर

0
10

मॉनसून की दस्तक के साथ ही तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के एजेंसी इलाक़ों से आदिवासियों और वन विभाग के बीच खेती की ज़मीन को लेकर झड़प की ख़बरें आने लगती हैं. इन राज्यों के आदिवासी शिफ़्टिंग एग्रीकल्चर या जूम खेती कते हैं, जिसे वो पोडु खेती कहते हैं.

पोडु खेती सीधा इन आदिवासियों के भूमि अधिकारों से जुड़ी है. इस विवाद का एक और पहलू है तेलंगाना सरकार की हरिता हरम योजना, जिसके तहत राज्य के फ़ॉरेस्ट कवर को बढ़ाने का प्लान है. लेकिन इसके लिए पेड़ जिस भूमि पर लगाए जाने हैं, उसपर आदिवासी अपना दावा पेश करते हैं.

इस पूरे मामले को समझने के लिए देखिए यह वीडियो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here