असदुद्दीन औवेसी और छोटु भाई वसावा आए एक मंच पर, गुजरात के पंचायत चुनाव और शहरी निकायों में मिल कर लड़ेंगे

AIMIM चीफ़ असदुद्दीन औवेसी ने भी मोदी सरकार पर जम कर हमला बोला. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एक तरफ़ राज्य में संविधान की अनुसूची 5 को लागू ना करके आदिवासी हक़ों को मारा जा रहा है. वहीं दूसरी तरफ़ डिस्टर्ब्ड एरिया क़ानून लगा कर मुसलमानों को परेशान किया जा रहा है

0
385

भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) के नेता छोटु भाई वसावा और AIMIM चीफ़ असदुद्दीन  औवेसी ने भरूच में स्थानीय निकायों और पंचायत चुनाव का आज आग़ाज़ कर दिया. यह पहली बार है जब AIMIM गुजरात में चुनाव लड़ेगी. 

बीटीपी नेता और झगड़िया के विधायक छोटु भाई वसावा ने अपने भाषण में बीजेपी की नीतियों पर जम कर हमला किया. उन्होंने कहा कि गुजरात में बीजेपी सरकार ने लगातार आदिवासियों को परेशान करने का काम किया है. 

छोटु भाई वसावा ने राज्य में बीजेपी सरकार पर संविधान की अनुसूची 5 के उल्लंघन का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि विकास के नाम पर आदिवासियों की ज़मीन छीनी जा रही है और उन्हें बेघर किया जा रहा है.

आदिवासी नेता वसावा ने केन्द्र सरकार की नीतियों की भी आलोचना की. उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार ने अपने वादों को पूरा नहीं किया. 

इस रैली में आए लोगों को संबोधित करते हुए बीटीपी नेता ने कहा कि आज ज़रूरत है कि देश में आदिवासी, दलित, ओबीसी और मुसलमान सभी एक मंच पर आएँ और इस सरकार को बेदख़ल करें. 

पंचायत चुनावों में जीत का दावा करते हुए छोटु भाई वसावा ने कहा कि अगर आदिवासी, दलित और अल्पसंख्यक एक हो जाएँगे तो उनकी जीत को कोई नहीं रोक सकेगा. 

AIMIM चीफ़ असदुद्दीन  औवेसी ने भी मोदी सरकार पर जम कर हमला बोला. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एक तरफ़ राज्य में संविधान की अनुसूची 5 को लागू ना करके आदिवासी हक़ों को मारा जा रहा है. वहीं दूसरी तरफ़ डिस्टर्ब्ड एरिया क़ानून लगा कर मुसलमानों को परेशान किया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि किसी भी मुसलमान को ज़मीन बेचने या ख़रीदने से पहले ज़िला अधिकारी से इजाज़त लेनी पड़ती है. उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार ने आदिवासियों की ज़मीन छीन कर उस पर स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी का निर्माण किया है. उनका कहना था कि सरकार ने एक तरफ़ आदिवासी की ज़मीन छीन ली है. 

दूसरी तरफ़ आदिवासी के खेतों को पानी नहीं मिल रहा है. औवेसी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि गुजरात में बीटीपी और AIMIM मिल कर एक वैकल्पिक राजनीतिक ताक़त बन सकती है. 

इस रैली में दोनों ही नेताओं ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार देश के कुछ कॉर्पोरेट घरानों के इशारे पर काम कर रही है. छोटु भाई वसावा और असदुद्दीन  औवेसी ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा.

औवेसी ने कहा कि कांग्रेस के विधायक बीजेपी में शामिल हो जाते हैं और कांग्रेस के नेता सेक्युलरिज़्म की बात करते रहते हैं. 

बीटीपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश भाई वसावा ने भी रैली को संबोधित किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here