झारखंड: तीन नाबालिग आदिवासी बच्चों की ट्रेन के नीचे आने से मौत, ट्रैक पर मिली लाशें

तीनों बच्चे देर रात में ट्रैक पर क्या कर रहे थे, इसका पता अभी नहीं चला है.

0
91

झारखंड के दुमका जिले में तीन नाबालिग आदिवासी बच्चों की चलती ट्रेन के नीचे आने से मौत हो गई. यह हादसा शिकारीपाड़ा थाना क्षेत्र के बरमसिया रेलवे स्टेशन के पास हुआ.

मारे गए बच्चों की पहचान अल्बिना मुर्मू, अजय हेम्ब्रम और साइमन मरांडी के रूप में हुई है. सभी की उम्र 16 साल बताई जा रही है. तीनों बच्चे पास के शाहजोरी और दुर्गापुर गांव के रहने वाले थे.

घटना की सूचना मिलते ही शिकारीपाड़ा थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शवों पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. घटना का पता तब चला जब उसी रेलवे ट्रैक से एक मालगाड़ी गुजर रही थी और उसके चालक ने वहां बच्चों के शव पड़े देखे.

कहा जा रहा है कि तीन में से दो बच्चों के शव कट गए थे, इनमें से एक का सिर शरीर से अलग पड़ा हुआ था. जबकि तीसरी बच्ची की मौत अंदरूनी चोटों की वजह से हुई है.

शिकारीपाड़ा थाने के प्रभारी अरविंद कुमार ने घटना की जानकारी देते हुए मीडिया को बताया है कि लगता है कि तीनों की मौत दुमका-हावड़ा ट्रेन के नीचे आने से हुई है.

पुलिस ने इन तीनों बच्चों के साथ मौजूद एक और नाबालिग लड़की से भी पूछताछ की है. उसने पुलिस को बताया कि वह उनके साथ थी, लेकिन रात नौ बजे वह अपने घर चली गई थी.

फिर उसे भी सुबह ही यह खबर मिली कि उसके तीनों दोस्तों की ट्रेन के आगे आने से मौत हो गई है. तीनों बच्चे देर रात में ट्रैक पर क्या कर रहे थे, इसका पता अभी नहीं चला है.

पुलिस फिलहाल हर एंगल से मामले की जांच कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here