मध्य प्रदेश में एक ही आदिवासी परिवार के तीन लोगों की हत्या, पुलिस ने कहा जांच चल रही है

0
113

मध्य प्रदेश के मंडला जिले में एक आदिवासी दंपति अपनी 12 साल की बेटी के साथ अपने घर की छत पर मृत पाए गए. घटना सोमवार देर रात की है.  सूचना मिलने के बाद पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया.

पुलिस का कहना है कि अज्ञात लोगों ने तीनों की उस समय हत्या कर दी जब वो अपने घर की छत पर सो रहे थे.

शुरुआती जांच से पता चला है कि पीड़ितों का गला काटा या. इसके लिए अपराधियों ने उन पर धारदार हथियार से हमला किया. एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक़ एफ़आईआर दर्ज कर ली गई है, और पुलिस की टीमों ने हत्याओं के दोषियों की तलाश शुरू कर दी है.

मृतकों की पहचान 62 साल के नर्मदा सिंह, उनकी पत्नी, 57 साल की सुकार्ति बाई और, उनकी बेटी, 12 साल की कुमारी महिमा के रूप में हुई है.

मंडला जिले के एक पुलिस अधिकारी ने मीडिया को बताया, “शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है और मामले में आगे की जांच जारी है. कई पुलिस दल अपराधियों की तलाश कर रहे हैं.”

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति पर सवाल उठाते हुए कहा है कि आदिवासियों को निशाना बनाया जा रहा है.

सिंह ने कहा, “राज्य में कानून-व्यवस्था की स्थिति दिन-ब-दिन बिगड़ती जा रही है. मध्य प्रदेश में आदिवासियों के खिलाफ अत्याचार बढ़ रहे हैं. अगर राज्य के गृह मंत्री स्थिति को संभाल नहीं सकते तो उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए.”

अभी दो हफ़्ते पहले, 3 मई को मध्य प्रदेश में दो आदिवासियों की गौमांस तस्करी के आरोप में पीट-पीट कर हत्या कर दी गई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here